यह एक स्वाभाविक सत्य है कि किसी भी इंसान के लिए एक विशेष क्षेत्र में महारत हासिल करना टेढ़ी खीर होता है, परन्तु गुरुजी अनगिनत कार्यों में सक्षम हैं।


यह कोई साधारण गुण नहीं है, संगीत से लेकर इंजीनियरिंग तक, खेल से कृषि तक, रूहानियत से विज्ञान तक गुरुजी अद्भुत विशेषताओं के स्वामी हैं।


डेरा सच्चा सौदा के आध्यात्मिक गुरु होने के साथ साथ संत गुरमीत राम रहीम सिंह जी इंसान ने अनगिनत और अविश्वसनीय भूमिकाओं का प्रदर्शन किया है और उन्हें उत्तमता के शिखर तक पहुंचाया है ।


जब भी कोई व्यक्ति यह देखता है कि गुरुजी ने मानवता भलाई के कितने क्षेत्रों में महारत हासिल की है, तो यह स्पष्ट हो जाता है कि गुरुजी जो गुरुमंत्र देते हैं, वह अत्यंत चमत्कारी  है जिससे आत्मविश्वास ओर आत्मज्ञान की प्राप्ति होती है।


रूहों को गुरुमंत्र देकर उनका उद्धार तो गुरुजी करते ही है, इसके अलावा, वह एक लेखक, वैज्ञानिक, संगीतकार, चिकित्सक, महा परोपकारी, दार्शनिक और परम मानवतावादी भी हैं।
गुरुजी का सम्पूर्ण जीवन मानवता को समर्पित है।


अद्भुत व कौशल खिलाड़ी


गुरुजी में 32 से अधिक राष्ट्रीय स्तर पर मान्यता प्राप्त खेलों को अद्भुत कौशलता के साथ खेलने की असाधारण दक्षता है। इस सूची में वॉली बॉल, नेट बॉल, थ्रो बॉल, कबड्डी, लॉन टेनिस, क्रिकेट, फुटबॉल, बिलियर्ड्स, टेबल टेनिस, स्नूकर, शूटिंग बॉल, योगा, बास्केटबॉल, वाटर पोलो और कई अन्य कई खेल शामिल हैं।


यहाँ यह बात विशेषनीय है कि गुरुजी ने शाह सतनाम जी शिक्षण संस्थानों के खिलाड़ियों को कोचिंग दी है जिसकी वजह से वे खिलाड़ी राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सफलता हासिल कर सके हैं ।

विशिष्ट चिकित्सक


गुरुजी ने बहुत सी बीमारियों के लिए उपचार निर्धारित किये हैं। यह एक अटूट सच्चाई है कि गुरुजी जो गुरुमंत्र देते हैं, वह हर बीमारी के लिए औषधि का काम करता है, परंतु फिर भी गुरुजी किसी बीमारी के लिए जो भी उपचार बताते हैं चाहे वह आयुर्वेदिक हो, योग हो या फिर सरल व्यायाम, वह हमेशा अत्यंत प्रभावकारी होता है।


गुरु जी ने कई आयुर्वेदिक दवाओं का विकास किया है और वह एक विशेषज्ञ मनोवैज्ञानिक होने के साथ साथ,  एक सफल योग प्रशिक्षक भी है।


साहित्यिक प्रतिभाएँ और कौशल


आध्यात्मिक कविता हो या गीत,  जो कुछ भी गुरुजी लिखते हैं और बोलते हैं, वह हर एक के दिल को छू जाता है। गुरुजी ने अनेक पुस्तकें और आध्यात्मिक गीत लिखे हैं ओर उनके वचन इंसान को आत्म ज्ञान से परिपूर्ण करते हैं।

बहुभाषी वक्ता


बिना किसी से सीखे ही, गुरुजी को अनेक भारतीय भाषाओं में महारत हासिल है ! पूज्य गुरुजी ने कई भाषाओं में गीत लिखे हैं व स्वयं ही उन्हें गाया भी है।

ऑटोमोटिव इंजीनियर


गुरुजी मोबाइल मशीनें चलाने के साथ साथ ऑटोमोटिव डिज़ाइन में भी कुशल हैं । गुरुजी को दुर्घटनाग्रस्त गाड़ियों को संशोधन करने और नए वाहन बनाने की भी महारत है । उन्होंने मात्र 7 वर्ष की उम्र में ही ट्रेक्टर चला कर अपने माता पिता को आश्चर्यचकित कर दिया था।

साहसिक कार्यकर्ता

गुरुजी ने सार्वजनिक समारोहों में ऐसे ऐसे करतब दिखाए, जो बहुत ही असाधारण हैं।

उदाहरण के लिए, गुरुजी ने एक लाइव कॉन्सर्ट में 'चॉकलेट ’ नामक एक गीत गाया, जिसके दौरान गुरुजी जमीन से तीस फीट ऊपर क्रेन से निलंबित थे। 


ऐसी परिस्थितियों में, कोई भी घबरा सकता है, लेकिन गुरुजी ने एक मार्मिक गीत गाया और वह भी एक बच्चे की आवाज़ की नकल करते हुए।


एक अन्य अवसर पर, गुरुजी ने एक पैर पर गाड़ी की सीट पर खड़े होकर और दूसरे पैर के साथ स्टीयरिंग को मोड़कर स्टेडियम के चारो तरफ गाड़ी चलाई और संगत को आशीर्वाद दिया।


इसके अलावा गुरुजी ने 8 फीट ऊँची दीवार को अपने शरीर से खींच कर गिरा दिया, यह सब केवल एक कुशल एथलीट ही कर सकता है।

सुरों का बादशाह


गुरुजी सूफी, पंजाबी, लोकगीत और रॉक संगीत सभी को नायाब कौशल से गाते हैं और सुरों की मोतियों में पिरोते हैं। गुरुजी हर प्रकार की कंपोजीशन, गीत, संगीत व निर्देशन बिना किसी ट्रेनिंग के बहुत ही कौशलता से करते हैं। और सबसे अविश्वसनीय बात यह है कि उनके द्वारा गाये गए गानों की सीडी, दुनिया की सबसे बड़ी म्यूजिक कम्पनी 'Universal Music' ने रिलीज़ करी है।

शानदार डिजाइनर


गुरुजी एक फैशन डिज़ाइनर, पत्रिका डिज़ाइनर, ऑटोमोबाइल डिजाइनर, इंटीरियर व एक्सटीरियर डिज़ाइनर  और लैंडस्केप डिजाइनर भी हैं।

कृषि विशेषज्ञ 

गुरुजी को बहुत बड़ी भूमि विरासत में मिली और वह बचपन से ही इसे उपजाऊ बनाने और अति उत्तम तरीके से प्रयोग लाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते रहे हैं।


अत्याधुनिक कृषि तरीके प्रयोग करके रेतीली भूमि से भी अत्यधिक फसल लेना उनके लिए कोई कठिन बात नही। वह नियमित रूप से नई किस्म की फसलों का विकास करते आ रहे हैं। वह लोगों को इको फ्रेंडली खेती करना भी सिखाते हैं। इसके अलावा लोगों को वह यह भी सिखाते हैं कि चारे को जलाया ना जाये बल्कि इसे भूसे के रूप में इस्तेमाल किया जाए।

सर्वोत्तम शेफ

गुरु जी एक अत्युत्तम शेफ हैं, वह हर प्रकार के व्यंजन बनाने में निपुण हैं।

पोषण विशेषज्ञ

वह सभी को पौषक खाना खाने के फायदे बता कर यह खाने के लिए प्रेरित करते हैं।उन्होंने मोटापा दूर करने के लिए एक अतिप्रभावशाली डाईट प्लान बनाया है और इसके अलावा कई खतरनाक बीमारियों का इलाज भी इजात किया है।

सच्चा आध्यात्मिक गुरु 

गुरुजी गुरुमंत्र की अनमोल दात बिना किसी दान दक्षिणा के प्रदान करते हैं और अभी तक लगभग 6 करोड़ लोग उनके इस पवित्र गुरुमंत्र से जुड़ चुके हैं। गुरुजी सभी को सिखाते हैं कि भगवान या उनके भेजे हुए संत, पीर, फकीर कभी भी किसी से कुछ नहीं मांगते। गुरुमंत्र के निरंतर जाप से आत्म विश्वास और परमानंद की प्राप्ति होती है।

समाज सुधारक

गुरुजी ने आदिवासियों को सुधारने और उन्हें समाज की मुख्य धारा में शामिल करने का बीड़ा उठा रखा है। उन्होंने शाह सतनाम जी ग्रीन ऐस वेल्फयर फ़ोर्स के नाम से एक टीम बनाई है जिसके सदस्य मिलकर 133 मानवता भलाई के कामों को दिल-ओ-जान से अंजाम देते आ रहे हैं ।

आपदा राहत के अनूठे नेता

कहीं भी कोई आपदा आती है, गुरुजी खुद जा कर पीड़ित लोगों की मदद करते हैं। गुजरात में वर्ष 2000 में आए भूकंप के दौरान गुरुजी ने घर घर जा कर पीड़ितों को सांत्वना दी और उनकी हर संभव मदद की। चाहे मलबे में फसे लोग हों या फिर गरीबी में घिरे लोग, डेरा सच्चा सौदा उनकी मदद के लिए हमेशा तत्पर रहता है।

पानी और स्वच्छता विशेषज्ञ

विदेशों से आए हुए लोगों के सामने भारत में पनपती गंदगी की वजह से शर्मिंदा होना पड़ता है, परंतु गुरुजी ने उस गंदगी को हटाने का बीड़ा उठाया है। उनके द्वारा चलाये गए बायोगैस प्रोजेक्ट सफलतापूर्वक आश्रम में चल रहे हैं।

प्रोद्योगिक डेवलपर

गुरुजी ने दुनिया का सबसे छोटा मोबाइल हस्पताल का निर्माण किया है, जो कि एक्स-रे, अल्ट्रासाऊंड और सर्जरी के लिए अति प्रभावशाली है। गुरुजी के पावन दिशा निर्देश में आश्रम में हर महीने गरीबों के लिये मुफ्त कैम्प लगाया जाता है जिसमें स्पेशलिस्ट औऱ सुपर स्पेशलिस्ट डॉक्टर अपनी सेवाएं देते हैं। गुरुजी द्वारा दिये गए तकनीकी समस्याओं के समाधानों की वजह से सिंचाई की कंपनी ने उन्हें Excellence award से सम्मानित किया है।

अन्धविश्वास के खिलाफ अभियान संचालक

गुरुजी लोगों को काला जादू और अंधविश्वास से दूर रहने के लिए प्रेरित करते हैं। इसके अलावा गुरुजी लोगों को मालिक के अनमोल नाम से जोड़कर उन्हें हर तरह में कर्मकांड से दूर रहना भी सिखाते हैं।

फेमिनिस्ट

गुरुजी ने समाज में लगातार बढ़ रही वैश्यावृत्ति को जड़ से मिटाने का साहसिक कदम उठाया है जो कि अति प्रशंसनीय है। मजबूरी वश वैश्यावृत्ति में फंसी लड़कियों को गुरुजी से उस दलदल से निकाल कर अपनी बेटियां बनाते हैं। इसके अतिरिक्त यदि ऐसी कोई लड़की HIV या किसी अन्य यौन संक्रमण से ग्रस्त है तो उसके इलाज की भी पूरी व्यवस्था की जाती है। गुरुजी के एक आह्वान से अब तक लगभग 1500 पढ़े लिखे लड़के इन लड़कियों को अपना जीवन साथी बनाने के लिऐ आगे आ चुके हैं। आश्रम में अब तक 12 ऐसी शादियाँ हो चुकी हैं और वे लोग खुशी से अपना जीवन बसर कर रहे हैं। वैश्याओं को समाज की मुख्य धारा में मिलाने की गुरुजी द्वारा की गई यह एक अनूठी पहल है।

भ्रूण हत्या और दहेज विरोधी अभियान संचालक

गुरुजी लोगों को गर्भपात रोकने में लिए प्रेरित करते हैं और उन्हें यह भी आह्वान करते हैं अगर माँ बाप अजन्मी बेटी को जन्म नहीं देना चाहते तो उन्हें मरवायें ना बल्कि आश्रम में दे दें। यहाँ उन्हें कोई अनाथ नहीं कहेगा और गुरुजी उन्हें खुद अपना नाम देंगे। ऐसी बेटियों के लिए आश्रम में शाही बेटियां बसेरा नाम से एक आश्रम बनाया गया है, जहाँ उन्हें विश्व स्तर की शिक्षा और अन्य सुविधाएं उपलब्ध कराई जाती हैं। गुरुजी के पावन दिशा निर्देशन में उन्होंने शिक्षा और खेल जगत में कई उप्लब्धियाँ हासिल की हैं।

पशु अधिकार नेता

गुरुजी किसी भी तरह की हिंसा के खिलाफ हैं। आश्रम में पाए जाने वाले जहरीले सांपों को भी मारने के बजाय, पकड़ कर जंगल मे छोड़ दिया जाता है।

0 Comments