भक्ति की वही अविरल धारा, वही चहुँ ओर संगत 

डेरा सच्चा सौदा के पूर्व गद्दीनशीन संत शाह सतनाम जी महाराज का 100वां जन्म दिवस धूम-धाम से मनाया गया, जिसमें हरियाणा राज्य से भारी संख्या में संगत ने भाग लिया। इस उपलक्ष्य में डेरा परिसर में नामचर्चा आयोजित हुई|


एक तरफ जहाँ बुद्धिजीवी वर्ग यह कयास लगा रहा था कि डेरा सच्चा सौदा में अब श्रद्धालु कम होंगे और कौए ज्यादा होंगे लेकिन हुआ बिलकुल विपरीत, भक्ति की वही अविरल धारा, वही चहुँ ओर संगत और धूम-धाम मानो जैसे सभी अनभिज्ञ हैं कि मीडिया तंत्र और समाज क्या बोल रहा है| दिल्ली से आये एक डॉक्टर से पूछा गया कि आप आज भी अपनी श्रद्धा पर कायम हैं? तो उन्होंने बताया कि टूटते वो लोग हैं जो भीड़ की गिनती को देखकर गुरु चुनते हैं, मैं गुरु जी की रहमतों की बदौलत जिन्दा हूँ और जब तक जीऊंगा गुरु जी अहसानमंद रहूँगा! इसी तरह वहां हर कोई अपने गुरु की मस्ती में झूमते हुए सत्संग पंडाल में पहुँच रहा था|
Satsang pandal of 35 Acre, Houseful 

इस अवसर पर शाह सतनाम जी धाम, डेरा सच्चा सौदा, सिरसा के परिसर में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया।।  दुनियाभर में आयोजित होने वाली नामचर्चाओं में डेरा सच्चा सौदा श्रद्धालुओं द्वारा जरूरतमंदों को राशन, कम्बल, गर्म कपड़े, छात्रों को स्टेशनरी प्रदान की गई तथा 134वें मानवता भलाई कार्य की शुरुआत की गई, इस नए कार्य के अनुसार सभी अनुयायियों ने यह प्रण लिया की "कभी प्रदूषण नहीं फैलाएंगे व प्रदूषण रोकने के लिए हर सम्भव प्रयास करेंगे।

वहीं डेरा की वरिष्ठ उपाध्यक्ष बहन शोभा इंसा ने बताया कि 1948 से लेकर आज तक डेरा अपने एक मात्र लक्ष्य मानवता की भलाई व जन जन में इसके प्रति जागरूकता के लिए प्रयासरत है। पूज्य संत डॉक्टर गुरमीत राम रहीम सिंह जी इंसां की पावन रहनुमाई में डेरा के अनुयायी दुनिया भर के विभिन्न देशों में  रहते हुए, अपने सतगुर का गुणगान करते हुए इंसानियत के प्रति अपने फ़र्ज़ को बखूबी निभा रहे हैं व ताउम्र निभाते रहने के लिए वचन बद्ध हैं। उल्लेखनीय है कि भारत के अतिरिक्त कनाडा, यू.एस.ए, ऑस्ट्रेलिया, न्यूज़ीलैंड, यू.के. इत्यादि सभी शीर्ष देशों में डेरा के अनुयायियों ने नामचर्चा करके अपने गुरु का जन्मदिन
Approx 1 Million followers attending the Spiritual congregation 
धूमधाम से मनाया।
इस अवसर पर शाह सतनाम जी स्पेशलिटी अस्पताल द्वारा डेरा सच्चा सौदा प्रबंधक कमेटी के सहयोग से हजारों मरीजों की निशुल्क जांच कर उन्हें मुफ्त परामर्श दी गई|
इस मेडिकल शिविर में डॉ. पुनीत माहेश्वरी, डॉ. गौरव अग्रवाल, डॉ. वेदिका, डॉ. मीनाक्षी, डॉ. अजय गोपलानी समेत अनेक विशेषज्ञ चिकित्सकों ने रोगियों की जांच की|

कौन हैं शाह सतनाम जी महाराज?

 डेरा सच्चा सौदा के पूर्व गद्दीनशीन परमपिता शाह सतनाम जी महाराज ने 25 जनवरी 1919 को हरियाणा के सिरसा जिले के गांव जलालआणा साहिब में सरदार वरियाम सिंह जी जैलदार के घर पूजनीय माता आसकौर जी की कोख से अवतार धारण किया था। आप जी ने 1960 से 1990 तक डेरा सच्चा सौदा की गुरुगद्दी पर विराजमान रहकर लाखों जीवों को नामदान देकर चौरासी लाख योनियों के आवागमन से मुक्त किया।





-Mega Celebration On Occasion of 100th Incarnation Day of Param Pita Shah Satnam Ji Maharaj At Shah Satnam Ji Dham, Dera Sacha Sauda, Sirsa


-Thousands of Patients Being Examined during the Free OPD at Shah Satnam Ji Hospital, Sirsa


0 Comments