-- डेरा सच्चा सौदा के प्रेमियों का एक और रिकार्ड, 3866 ने लिया मरणोपरांत आँखें व शरीर दान करने का संकल्प 
-- विश्व खूनदान दिवस के उपलक्ष में 3866 के किया खूनदान 
-- डेरा सच्चा सौदा ने लगाया चंडीगढ़ में स्टेट स्तरीय खूनदान कैम्प 


चंडीगढ़ । 

खूनदान दान करते हुए तो बहुत लोगो को देखा था परन्तु खूनदान करने के साथ ही शरीरदान व आँखें दान करने का संकल्प करते हुए पहिलीवार देखा गया है l चंडीगढ़ में डेरा सच्चा सौदा की तरफ से तरफ से लगाए गए खूनदान कैम्प में कुछ ऐसा से नजारा देखने को मिला, जहाँ पर खूनदान करने के लिए आये डेरा प्रेमियों ने मौके पर ही शरीरदान व आँखें दान का फार्म भी भर दिया 
               
शुक्रवार को भारतीय सेना के लिए लाखों यूनिट रक्त उपलब्ध करवाने वाले डेरा सच्चा सौदा ने शुक्रवार को विश्व रक्तदाता दिवस को समर्पित रक्तदान शिविर का आयोजन चंडीगढ़ में किया था । 
 
इस अवसर पर विभिन्न शहरों से आए ब्लड बैंक चिकित्सकों की टीमों द्वारा सुबह 9 बजे से दोपहर 2 बजे तक रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया। ब्लड बैंकों व आयोजकों द्वारा यहां करीब 3000 रक्तदानियों के लिए प्रबंध किया गया था लेकिन 4800 से अधिक लोगों द्वारा रक्तदान के लिए पंजीकरण करवाए जाने के कारण प्रबंध कम पड़ गए। जिसके चलते बड़ी गिनती में रक्तदानी रक्तदान किए बगैर अपने घरों को लौट गए। इस खूनदान कैम्प में 3866 डेरा प्रेमियों ने खूनदान किया और लगभग सभी ने ही शरीरदान व आँखें दान का फार्म भी भर कर संकल्प किया l बताया जा रहा है कि जो 1 हजार के करीब डेरा प्रेमी खूनदान नहीं कर पाए है, उन्होंने शरीरदान व आँखें दान करने का संकल्प पत्र जरुर भरा है l 
      
इस अवसर पर डेरा सच्चा सौदा की वाइस चेयरपर्सन शोभा इंसा ने बताया की डॉ.गुरमीत राम रहीम इंसा के मार्गदर्शन में डेरा सच्चा सौदा हमेशा से भारतीय सेना की सहायतार्थ हमेशा से ही रक्तदान शिविर का आयोजन करता रहा है। पिछले करीब डेढ़ दशक से भारतीय सेना के लिए रक्तदान कैंपों का आयोजन किया जा रहा है जिनमें लाखों यूनिट रक्त संग्रहित कर भारतीय सेना को दिया जा चुका है। रक्तदान में डेरा सच्चा सौदा के नाम तीन गिनीज ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड, दो एशिया बुक ऑफ रिेकॉर्ड , दो लिम्का बुक ऑफ रिकार्ड व एक इंडिया बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड भी दर्ज हैं। उन्होंने बताया कि डेरा सच्चा सौदा द्वारा भविष्य में भी भारतीय सेना की सहायतार्थ देशभर में रक्तदान शिविरों का आयोजन किया जाएगा। रक्त संग्रह करने वाली टीमों में ब्लड बैंक सामान्य हस्पताल, पटियाला, ब्लड बैंक ओजस हस्पताल पंचकूला, लाइफ लाइन ब्लड सेंटर पटियाला, ब्लड बैंक मैक्स हस्पताल मोहाली, पुरोहित ब्लड बैंक श्री गंगानगर, फ्रीडम ब्लड बैंक भिवानी, लाइफ लाइन ब्लड बैंक नागपुर, पीतमपुरा ब्लड बैंक नई देहली प्रमुख रहे।



इसी में बाक्स---

गौरतलब है कि आज तक डेरा सच्चा सौदा द्वारा 189 कैम्प लगाए जा चुके हैं जिनमें 513136 यूनिट रक्त दान किया जा चुका है।

पुरोहित ब्लड बैंक, श्री गंगानगर से डा. विष्णु पुरोहित ने कहा कि डेरा सच्चा सौदा एक ऐसी संस्था है जिस के जज़्बे की कहीं कोई मिसाल नहीं, यदि यह संस्था ब्लड डोनेट करना बंद कर दे, तो सभी ब्लड बैंकों में रक्त का अकाल पैड जाएगा। डॉ. विष्णु पुरोहित, बंसल नर्सिंग कॉलेज व बॉम्बे इंस्टिट्यूट ऑफ फार्मेसी के चेयरमैन भी हैं

इसी में बाक्स---  

किस जिलें से आये थे कितने खूनदानी 

जिला            गिनती 

संगरूर          1220 
पटियाला        790 
मोगा             210 
बठिंडा           480 
मोहाली         370 
चंडीगढ़         265 
पंचकूला        230 
इस्लेमाबाद    145 
पेहवा             156 

टोटल           3866

0 Comments